Ranveer Singh , Biography , Lifestory , Bollywood Life , Wife , School Life

Ranveer Singh Biography


Ranveer Singh Lifestory In Hindi








Ranveer Singh
बात है।   बैंड बाजा बारात की या फिर बाजीराव मस्तानी की अपनी गजब की एनर्जी से सबको हैरान कर देने वाले रणबीर सिंह ने आज पूरे भारत को हाँ दीवाना बना के रखा हुआ है हालांकि शुरुआत में तो किसी ने पागल बोला तो किसी ने छोड़ा लेकिन दूसरों की बातों की परवाह किए बिना रणवीर ने अपनी मेहनत पर भरोसा रखा और बॉलीवुड को एक से बढ़कर एक सौ पूरी फ़िल्म थी और आज भेजा यह है कि इंटरनेट से लेकर न्यूजपेपर या फिर टेलीविज़न हर जगह पर उनकी चर्चा सुनाई देती है शुरुआत के इस Article में हम जाने की फ़िल्मों में बाजीराव की असल कहानी जो की बॉलीवुड में उनके संघर्ष को बयां करती है साथ ही साथ यह बताती है कि अगर इंसान के अंदर कुछ कर गुज़रने की चाह हो तो इंसान अपने हर सपनों को पूरा करने की काबिलियत रखता है तो इस कहानी को शुरुआत होती है छह जुलाई से जब मुंबई के एक सिंधी परिवार में रणवीर सिंह भवनानी का जन्म हुआ उनके पिता का नाम जगजीत सिंह और माँ का नाम अंजू है इसके अलावा एक बहन भी है जीने की रितिका के नाम से जाना जाता है 



औरऔर दोस्तों आपको बता दें किRanveer Singh के दादा दादी पहले पाकिस्तान के कराची में रहा करते थे लेकिन बंटवारे के बाद से वह मुंबई में आकर बस्ती और कहा जाता है कि रणवीर  गए और वहाँ पर उन्हें सौ इक्यानवे में आई फ़िल्म हम मूवी एक फेमस वाम चुम्मा चुम्मा पर ऐसा डांस किया कि उनके परफॉर्मेंस को देखकर तालियों की गड़गड़ाहट बुरे हाल में कुछ गई और दोनों किसीने सच कहा है कि कलाकार भी तालियों का होता है इस परफार्मेंस के बाद से उन्होंने एक एंटरटेनर बनने का सपना देख लिया और उनकी दिली तमन्ना थी कि वह बड़े होकर एक्टर बनना और इसलिए वह स्कूल होने वाले हर एक्स्ट्रा ऐक्टिविटी में हमेशा ही आगे रहते थे और फिर एचआर कॉलेज ऑफ कॉमर्स एंड इकोनॉमिक्स में एडमिशन लेने के बाद से रणवीर को यह महसूस हुआ कि फिल्मों में काम करना इतना आसान भी नहीं है और इसीलिए उन्होंने पढ़ाई पर ज्यादा ध्यान देना शुरू कर दिया उन्होंने यूनाइटेड स्टेट के इंडियाना यूनिवर्सिटी से बैचलर ऑफ आर्ट्स की डिग्री हासिल की हालांकि अपने भाषण को साथ लिए वहीं पर वार टीम की भी ट्रेनिंग लेते रहे और फिर पढ़ाई पूरी होने के बाद वह दो हज़ार सात में मुंबई वापस आ गया और वापस आकर उन्होंने कुछ साल होगा उपाय नाम और जेवर थॉमसन जैसी एजेंसियों के लिए कॉपी राइटर के तौर पर कहा था हालाँकि ऐक्टिंग में करियर बनाने के लिए उन्होंने आगे चलकर इन कामों को छोड़ दिया और फिर फिल्मों में एंट्री के लिए लगातार डिशज़ देने लगी हालांकि लंबे समय तक उन्हें बड़ी सफलता तो नहीं मिली लेकिन छोटे मोट रोल मिलने शुरू हो गए थे और इस समय को याद करते हुए रणबीर ने बताया कि वह काफी निराश हो चूके थे क्योंकि उन्हें लगता था कि वह अपनी लाइफ में बहुत ही ग़लत डिसीज़न लेकर आगे बढ़ चूके हैं हालांकि उन्होंने कोशीश करना जारी रखा | 









टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां